करवा चौथ 2020 : जानिए क्यों है सरगी की थाली का महत्व, क्या होता है इस थाली में ख़ास

करवा चौथ 2020 : कल करवा चौथ का त्योहार है और पति की लंबी उम्र की कामना के लिए करवाचौथ का महापर्व हर साल मनाया जाता है. इस दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की लम्बी उम्र के लिए निर्जला व्रत रखती हैं. इस दिन शाम को पूजा की जाती है. साथ ही चंद्रमा को अर्घ्य देकर व्रत खोला जाता है. इस दिन लाल रंग के वस्त्र या साड़ी पहनना शुभ माना जाता है. आपको बता दें कि करवा चौथ पर व्रती स्त्रियों को राशि के हिसाब से भी वस्त्र धारण कर पूजन करने से उन्हें शुभ फल मिलता है.

इस दिन व्रत की सुबह महिलाएं सरगी खाती है. महिलाएं सूर्य के उदय होने से पहले सरगी खाकर इस व्रत की शुरुआत करती हैं. सरगी को ख़ास माना जाता है. वो इसलिए भी ख़ास होती है क्योंकि इसमें आई चीजों का मिश्रण होता है. फिर पूरे दिन महिला उपवास रखती है. सरगी सुबह के समय खाई जाती है.

करवा चौथ की खास थाली सरगी होती है. इसमें खाने की कुछ चीजें होती है, जिसका महत्व काफी ज्यादा होता है. इस दिन महिला निर्जला व्रत रखती है. फिर रात के समय चांद की पूजा करने के बाद खाया जाता है. सरगी को खाकर ही व्रत की शुरूआत की जाती है इसलिए सरगी की थाली दी जाती है. इस थाली में वैसी चीज़ें दी जाती है जिसे खाने से पूरे दिन एनर्जी बनी रहे.

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password