जन्माष्टमी 2020 : संतान प्राप्ति के लिए क्या करें आज , जाने कैसे बढ़ेगा आत्म विश्वास

 

रायपुर (अविरल समाचार). जन्माष्टमी 2020 (Janmashtmi) :  भगवान श्री कृष्ण सभी सुखों के दाता हैं. जन्माष्टमी के दिन किस प्रकार उनका पूजन करने से आप सभी भयों से मुक्ति प्राप्त कर सकते हैं. अपने आत्म विशवास को बढ़ा सकतें हैं. इन सभी विषयों पर आइये जानते है. ज्योतिषाचार्य डॉ.दत्तात्रेय होस्केरे से.

 

  1. संतान प्राप्ति का मार्ग होगा सुगम: यदि विवाह के कई वर्षो के पश्चात भी संतान की प्राप्ति नहीं हुई है तो जन्माष्टमी की रात्रि निराहार रहकर केसर और कस्तुरी युक्त गाय के दूध से बाल गोपाल की प्रतिमा का अभिषेक करें। संतान गोपाल मंत्र का पठन करें या इस मंत्र का जाप करें:

मंत्र: कात्यायनी महामाये महायोगिन्यधीश्वरी।

             नन्दगोप सुतं देहि पतिं में कुरुते नम:॥

प्रत्येक गुरुवार को इस प्रक्रिया को दोहरायें। लाभ होगा।

 ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप नित्य करें। 

यह भी पढ़ें:

जन्माष्टमी 2020 आज, क्या हैं शुभ मुहूर्त, राशि के अनुसार कैसे करें पूजन

  1. शीघ्र विवाह होगा: विवाह में यदि देरी हो रही है और बाधा भी है तो हरे वस्त्र पहने हुए राधा कृष्ण की एक तस्वीर अपने पूजा स्थान में लगायें। जन्माष्टमी की रात्रि से इस मंत्र का जाप प्रारम्भ करें:

                  मंत्र: कृष्णाय वासुदेवाय हरये परमात्मने।

                          प्रणत क्लेश नाशाय गोविन्दाय नमो नम:।

                    मंत्र का जाप प्रतिदिन करें।

  1. कर्ज से मिलेगी मुक्ति :ऋण मुक्ति के लिये जन्माष्टमी की रात्रि भगवान का पूजन और श्रृंगार करें और एक तेल का दीपक पीपल के पेड के नीचे रख दें। घर वापस आ कर आठ कौडियों को पीले वस्त्र में बान्ध दें और प्रतिदिन उसे सीधे हाथ में रख कर मंत्र, ह्रीं श्रीं श्रीयै नम: का जाप करें। गुरु वार को भगवान के दर्शन करें।
  2. रोजगार संबंधी समस्या का होगा समाधान : रोजगार सम्बन्धी समस्या के लिये जन्मष्टमी की रात्रि गोपाल सहस्रनाम का पठ करते हुए भगवान को पीले पुष्प अर्पित करें। तत्पश्चात प्रत्येक गुरुवार को भगवान के दर्शन कर पीले पुष्प करें। 

    दूर होगा भय, बढेगा आत्म विश्वास

    यदि किसी भी तरह की बाधा य कोई भय आपको चिंतित कर रहा है। या आप महसूस कर रहे है कि आप में आत्म विश्वास की कमी है, तो भगवान श्रीकृष्ण को किसी भी अष्टमी को काली तिल और चावल अर्पित कर प्रतिदिन इस मंत्र का जाप 6 मिनट करें। भय से मुक्ति मिलेगी और आत्मविश्वास भी बढेगा।

    मंत्र:   वसुदेव सुतम देवम, कंस चाणूर मर्दनम।

          देवकी परमानन्दम कृष्णम वन्दे जगत गुरुम।।

     

    यह भी पढ़ें:

    साप्ताहिक राशिफल : मिथुन, कन्या, तुला, और कुंभ राशि के जातक सावधानी बरतें

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password