घोरागांव मुठभेड़ को नक्सलियों ने बताया फर्जी ,बीच सड़क पर पेड़ काटकर लगाया बैनर

रायपुर (अविरल समाचार): घोरागांव मुठभेड़ को फर्जी मुठभेड़ करार देते हुए माओवादियों ने नगरी-मैनपुर मार्ग को पेड़ काटकर रास्ता बंद कर दिया है । माओवादियों ने यहां बैनर पोस्टर चस्पा कर धमतरी और गरियाबंद को 24 घंटे के लिए बंद रखने का आह्वान किया है ।

उल्लेखनीय है कि बीते 30 अगस्त को रात्रि 9.30 बजे पुलिस ने घोरागांव में एक माओवादी को घेरकर ढेर कर दिया था । इस पर भाकपा माओवादी डिवीजन कमेटी के प्रवक्ता गुड्डू मरकाम के नाम से चस्पा माओवादी बैनर में कहा गया है कि गोबरा दलम के एरिया कमांडर रवि उर्फ मलेश कुंजाम को पुलिस ने घोरागांव में घेरकर एनकाउंटर कर दिया और पुलिस वाहवाही लूटने के लिए इसे मुठभेड़ करार दे दिया।

इस घटना के बाद माओवादियों में भारी आक्रोश है, जिन्होंने गुरुवार की देर रात नगरी ब्लाक मुख्यालय से करीब 11 किलोमीटर दूर सांकरा के आगे बड़े झाड़ को काटकर रास्ता ब्लॉक कर दिया है। इसमें बैनर लगाकर भाकपा माओवादी डिवीजन कमेटी ने धमतरी एसपी बीपी राजभानु के नेतृत्व में इसे फर्जी मुठभेड़ बता कर विरोध जताया है , साथ ही कहा गया है कि कामरेड रवि उर्फ मलेश कुंजाम बीते 2018 से गोबरा एरिया कमांडर की जिम्मेदारी निभाते आ रहा था। पार्टी में उसे काम करते हुए 19 साल हो गए थे। माओवादियों का कहना है कि झूठी वाहवाही लूटने के लिए धमतरी पुलिस ने कहानी गढ़ी है जिसका बदला लिया जाएगा ।

इधर माओवादियों के 24 घंटे बंद का आह्वान से नगरी सिहावा वनांचल में एक बार फिर दहशत बढ़ गई है । सुबह राहगीरों की खबर पर पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और बैनर पोस्टर को हटाकर रास्ता क्लियर किया जा रहा है…

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password