बिहार: करोड़ों की लागत से बना पुल 29 दिन में ध्वस्त, अगर किसी ने इसे नीतीश जी का भ्रष्टाचार कहा

पटना: बिहार के गोपालगंज में 263.47 करोड़ की लागत से बना सत्तरघाट महासेतु कल पानी के दबाव से धराशायी हो गया. इस पुल का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महज़ 29 दिन पहले 16 जून को किया था. इस टूटे हुए पुल का वीडियो राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट करते हुए नीतीश सरकार पर तंज कसा है.

तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘8 वर्ष में 263.47 करोड़ की लागत से निर्मित गोपालगंज के सत्तर घाट पुल का 16 जून को नीतीश जी ने उद्घाटन किया था. आज 29 दिन बाद यह पुल ध्वस्त हो गया. खबरदार! अगर किसी ने इसे नीतीश जी का भ्रष्टाचार कहा तो? 263 करोड़ तो सुशासनी मुंह दिखाई है. इतने की तो इनके चूहे शराब पी जाते है.’

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 16 जून को इस महासेतु का उद्घाटन किया था. इस पुल का निर्माण गोपालगंज को चंपारण और तिरहुत के कई जिलों से जोड़ने के लिए किया गया था. इस पुल के धराशायी होने से अब गोपालगंज का चंपारण तिरहुत और सारण के कई जिलों से आवागमन बंद हो गया है. बता दें कि फैजुल्लाहपुर में यह पुल टूटा है.

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password