योगी के कानून बनाने वाले बयान पर भड़के ओवैसी, बोले- बिहार में दाल नहीं गल रही, इसलिए नफरत फैला रहे

पटना: हरियाणा के निकिता हत्याकांड के बाद लव जिहाद को लेकर एक बार फिर से बहस छिड़ गई है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाने की बात कही. वहीं AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने योगी पर पलटवार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को कानून की जानकारी नहीं है.

बिहार के कटिहार के सभा में योगी पर हमला करते हुए ओवैसी ने कहा, ”आर्टिकल 21 क्या कहता है, योगी पढ़ें और पढ़ कर देश को बताएं. BJP-RSS देश के मुसलमानों के खिलाफ नफरत भड़काती रहती है।”

ओवैसी ने कहा, ”बीजेपी-आरएसएस एक मंसूबाबंद तरीके से मुसलमानों के खिलाफ कुछ न कुछ कहते रहते हैं. जिससे मुसलमानों के खिलाफ नफरत भड़कायी जाए. जब कोरोना चल रहा था तब तब्लीगी जिहाद कहा, कोर्ट ने उसको झूठ बताया, फिर upsc जिहाद कहा. सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया दिया क्या है सच्चाई क्या है.”

उन्होंने आगे कहा, ”अब लव जिहाद की यह योगी बात कर रहे हैं, ये उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री हैं. मगर इनको संविधान नाम की चीज न समझ में आती है न उनको कुछ मालूम है. उनको ये समझना है कि संविधान में आर्टिकल 21 क्या है ? वो पढ़ लें, अगर उनको पढ़ना नहीं आता तो किसी जानकार से, संवैधानिक वकील से पढ़ा लें.”

ओवैसी ने कहा कि तीसरी बात स्पेशल मैरेज एक्ट क्या है? स्पेशल मैरेज एक्ट निलवाईये, ये सिर्फ अपनी नाकामियों को छुपाना चाहते हैं. बिहार में इनकी दाल नहीं गल रही है, इसलिए नफरत फैलाना चाहते हैं.

बता दें कि 26 अक्टूबर को हरियाणा के फरीदाबाद में तौसीफ नाम के सिरफिरे ने निकिता की गोली मारकर हत्या कर दी. इसके बाद लव जेहाद को लेकर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है. हरियाणा से लेकर यूपी तक जबरन धर्म परिवर्तन और लव जेहाद के खिलाफ कानून बनाने की बात की जा रही है.

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password