देश की पहली सीप्लेन सेवा, सरदार पटेल की जयंती पर शुरू होगी , कल नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन

अहमदाबाद (एजेंसी). सीप्लेन सेवा : लौहपुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयंती पर देश की पहली सीप्लेन सेवा शुरू हो रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल सुबह अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को देश को समर्पित करेंगे. गुजरात के केवड़िया यानी स्टेच्यू ऑफ यूनिटी से इस सेवा का शुभारंभ किया जाएगा. जो रोजाना पर्यटकों के लिए अहमदाबाद से केवड़िया और केवड़िया से अहमदाबाद के बीच उपलब्ध होगी. प्रधानमंत्री मोदी कल सुबह 10 बजे खुद सीप्लेन से केवड़िया से अहमदाबाद तक का सफर करेंगे. सीप्लेन सर्विस का जिम्मा स्पाइजेट एयरलाइंस को दिया गया है.

यह भी पढ़ें :

आज है शरद पूर्णिमा, श्रद्धालु लगा रहे आस्था की डुबकी, जानिए पूजा का शुभ मूहर्त और महत्व

सीप्लेन सर्विस स्पाइसजेट की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी स्पाइस शटल द्वारा संचालित की जाएंगी. 31 अक्टूबर से अहमदाबाद-केवडिया मार्ग पर दो दैनिक उड़ानें शुरू की जाएंगी. दोनों तरफ़ का कुल किराया 3000 रूपए निर्धारित किया गया है. एक तरफ़ का कुल किराया 1500 रुपए से शुरू किया जा रहा है. जबकि 30 अक्टूबर यानी आज से ऑनलाईन टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई है. स्पाइसजेट इन उड़ानों के लिए 15 सीटर ट्विन ओटर 300 विमानों का उपयोग करेगा.

यह भी पढ़ें :

आज आएंगे रिलायंस इंडस्ट्रीज के दूसरी तिमाही के नतीजे, रिटेल और जियो के मुनाफे पर रहेगी नजर

सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर सुबह 10:30 बजे साबरमती रिवरफ्रंट, अहमदाबाद से रवाना होगा और 10:45 बजे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, केवडिया पहुंचेगा. ये यात्रा सिर्फ़ आधे घंटे में पूरी हो जाएगी. अहमदाबाद से प्रतिदिन 10:15 पर सीप्लेन उड़ेगा और 10:45 पर केवड़िया पहुंचेगा. केवड़िया से प्रतिदिन सीप्लेन 11:45 पर उड़ेगा और 12:15 पर अहमदाबाद पहुंचेगा. यही सीप्लेन प्रतिदिन 12:45 पर दोबारा अहमदाबाद से उड़ेगा और दोपहर 1:15 पर केवड़िया पहुंचेगा. केवड़िया से ये फिर से दोपहर 3:15 पर उड़ेगा और 3:45 पर अहमदाबाद पहुंचेगा.

यह भी पढ़ें :

सनराइजर्स हैदराबाद और आरसीबी के बीच होगा कड़ा मुकाबला, प्लेऑफ में जगह पक्की करने का होगा इरादा

देश की पहली सीप्लेन सेवा को रीजनल कनेक्टिविटी की दिशा में एतिहासिक माना जा रहा है. सीप्लेन सेवा की शुरूआत से देश के सबसे दूरस्थ भागों को हवाई मार्ग से जोड़ने की दिशा में महत्वपूर्ण माना जा रहा है. इससे न केवल पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा बल्कि अन्य राज्यों में मौजूद जलमार्ग के उपयोग की प्रेरणा मिलेगी. सरकार की मंशा है कि गुजरात में सीप्लेन सेवा शुरू होने के बाद नागपुर, मुम्बई और गोवाहाटी में भी सीप्लेन सर्विस शुरू की जाएगी. जिनका ट्रायल भी ही चुका है. सीप्लेन सेवा का जो सबसे महत्वपूर्ण पार्ट है कि यह एक छोटे से जल निकाय पर उतरने की क्षमता रखता है. इसके लिए हवाई अड्डों और रनवे के निर्माण के खर्च से बचा जा सकता है. बिना लागत के देश के दूरस्थ भागों को मुख्यधारा के विमानन नेटवर्क से जोड़ा जा सकता है.

यह भी पढ़ें :

सरकार ने दिए संकेत, टूरिज्म, होटल और रियल एस्टेट को तीसरे राहत पैकेज में सबसे ज्यादा मिलेगा फायदा

स्पाइसजेट ने उड़ान के तहत 18 सीप्लेन रूट हासिल किए हैं, जिनमें अहमदाबाद-केवडिया (साबरमती रिवर फ्रंट से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, सरदार सरोवर), अगत्ती-मिनिकॉय, अगत्ती-कवात्ती आदि शामिल हैं. उत्तर-पूर्व, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, अंडमान, लक्षद्वीप और अन्य तटीय क्षेत्र कुछ ऐसे गंतव्य हैं जिनका जल-थल विमान संचालन के लिए मूल्यांकन किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें :

आधार कार्ड के साथ कौनसा मोबाइल नंबर है लिंक, ऐसे लगाएं पता

प्रधानमंत्री मोदी के आगमन को लेकर अहमदाबाद पुलिस ने भारी सुरक्षा इंतजाम किये हैं. रिवरफ्रंट के दोनों तरफ बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात किए गए है. प्रधानमंत्री मोदी सुबह करीब 10.30 बजे सीप्लेन से साबरमती रिवरफ्रंट पर लैंड करेंगे. जिसके चलते शुक्रवार शाम से ही रिवरफ्रंट इलाके को सील कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें :

छत्तीसगढ़ राज्योत्सव : राहुल गांधी की वर्चुअल उपस्थिति में मुख्यमंत्री निवास में होगा आयोजन

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password