GDP में जबरदस्त गिरावट से लेखक चेतन भगत भी चिंतित, ट्वीट में कहा-ये सब पर असर दिखाएगा

नई दिल्ली(एजेंसी): कल आए जीडीपी के आंकड़ों ने देश में सभी की चिंता बढ़ा दी है. तमाम विपक्षी नेताओं से लेकर आम जनता भी इसको लेकर परेशानी महसूस कर रही है. प्रबृद्ध वर्ग भी जीडीपी के गिरकर -23.9 फीसदी पर आने को लेकर चर्चा कर रहा है. इसी कड़ी में लेखक चेतन भगत ने कल आए जीडीपी के निराशाजनक आंकड़ों को लेकर एक ट्वीट किया है.

चेतन भगत ने आज एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा कि पिछली तिमाही में जीडीपी -24 फीसदी गिरी है. इसको सामान्य स्तर पर लाने के लिए तुरंत ध्यान देने की जरूरत है, ये साफ तौर पर सभी पर असर डालेगी, धीरे-धीरे ही सही.

बता दें कि कल राष्ट्रीय सांख्यिकी मंत्रालय ने चालू वित्त वर्ष में पहली तिमाही के जीडीपी के आंकड़े जारी किए हैं. अप्रैल-जून 2020 की तिमाही में देश की जीडीपी गिरकर -23.9 फीसदी पर आ गई है. साफ तौर पर कोरोना वायरस महामारी और इसके चलते लगे लॉकडाउन का असर देश के सकल घरेलू उत्पाद पर पड़ा है और इसमें बेतहाशा गिरावट आई है.

आज कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और पूर्व बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने भी इसको लेकर ट्वीट किया और भारी चिंता जताई. जीडीपी में जबरदस्त गिरावट पर कपिल सिब्बल ने तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा निशाना साधा और अपने ट्वीट में कहा कि मोदी जी क्या आपको याद है : अच्छे दिन, सब का साथ सब का विकास, आपने कांग्रेस को साठ साल दिये मुझे सिर्फ़ साठ महीने दो. पकोड़े तलने का वक्त आ गया है-वो भी नहीं बिकेंगे ! सिर्फ़ भाषण-ज़ीरो शासन.

इसके अलावा शत्रुघ्न सिन्हा ने भी जीडीपी में जबरदस्त गिरावट पर ट्वीट के जरिए चिंता जताते हुए कहा कि मैं दुआ करता हूं कि इसे भी ‘एक्ट ऑफ गॉड’ न बता दिया जाए. गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस आपदा को ‘एक्ट ऑफ गॉड’ बताते हुए इसे जीडीपी कलेक्शन में आई गिरावट का कारण बताया था.

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password