प्रणब मुखर्जी गहरे कोमा में हैं, आज भी उनकी हालत में कोई सुधार नहीं

नई दिल्ली (एजेंसी). प्रणब मुखर्जी (Pranb Mukherjee) : पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं हुआ है और वह अभी वेंटिलेटर पर ही हैं. सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल ने सोमवार को यह जानकारी दी. अस्पताल ने कहा, प्रणब मुखर्जी (Pranb Mukherjee) की हालत आज सुबह से अपरिवर्तित है. वह गहरे कोमा में हैं. उनके श्वसन संक्रमण का इलाज किया जा रहा है. उनके जरूरी पैरामीटर स्थिर हैं और वे वेंटिलेटरी सपोर्ट पर हैं.

यह भी पढ़ें:

आयल इंडिया लिमिटेड में ऑपरेटर्स की भर्ती, ऐसे करें अप्लाई

प्रणब मुखर्जी (Pranb Mukherjee) को 10 अगस्त को दिल्ली छावनी स्थित इस अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उसी दिन उनके मस्तिष्क की सर्जरी हुई थी. उन्हें कोविड-19 जांच में संक्रमण की पुष्टि भी हुई थी. डॉक्टरों ने बताया कि इसके बाद उनके फेफड़ों में संक्रमण हो गया, जिसका इलाज किया जा रहा है. प्रणब मुखर्जी 2012 से 2017 तक देश के राष्ट्रपति रहे थे.

यह भी पढ़ें:

CDS बिपिन रावत बोले- चीन के साथ बातचीत नाकाम हुई तो सैन्य विकल्प तैयार

84 साल के पूर्व राष्ट्रपति Pranb Mukherjee को मस्तिष्क में खून का थक्का जमने के बाद एक जीवन रक्षक आपातकालीन सर्जरी की गई थी. इसके बाद उनका स्वास्थ्य खराब हो गया. 10 अगस्त को मुखर्जी ने ट्वीट किया था, “एक अलग प्रोसीजर के लिए अस्पताल आया हूं और मेरा कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव निकला है. पिछले हफ्ते मेरे संपर्क में आए लोगों से मैं अनुरोध करता हूं कि वे खुद को आइसोलेट करें और अपना कोविड-19 परीक्षण कराएं.”

यह भी पढ़ें:

कांग्रेस वर्किंग कमेटी में बड़ा हंगामा, BJP से सांठगांठ वाले राहुल के बयान पर भड़के आजाद,सिब्बल, कही ये बड़ी बात

दिल्ली छावनी स्थित आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा कि एक्सपर्ट्स की एक टीम पूर्व राष्ट्रपति Pranb Mukherjee के स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखे हुए है. प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य को लेकर अस्पताल की तरफ से रोजाना हेल्थ बुलेटिन जारी कर जानकारी दी जा रही है.

यह भी पढ़ें:

सलमान खान ने किया गणपति बप्पा का स्वागत

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password