राजीव गांधी हत्याकांड की दोषी नलिनी ने जेल में की आत्महत्या की कोशिश, एक कैदी के साथ हुआ था झगड़ा

नई दिल्ली(एजेंसी): पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी हत्याकांड की दोषी नलिनी ने कल रात जेल में आत्महत्या करने की कोशिश की. बता दें कि नलिनी वेल्लोर जेल में बंद हैं. इस बारे में नलिनी के वकील पुगलेंती ने जानकारी दी. बताया जा रहा है कि नलिनी की कल रात एक कैदी से लड़ाई हुई थी, जिसके बाद उन्होंने अपनी जान देने की कोशिश की.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नलिनी पिछले 29 साल से जेल में बंद हैं. नलिनी के वकील ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि उसने 29 साल में पहली बार अपनी जान देने की कोशिश की है. वकीन ने बताया कि जेल में नलिनी का एक कैदी के साथ झगड़ा हुआ था. जिससे नलिनी का झगड़ा हुआ था वो भी उम्रकैद की ही सज़ा में बंद है. उस कैदी ने झगड़े की शिकायत जेलर से की थी, जिसके बाद नलिनी ने आत्महत्या करने की कोशिश की.

बता दें कि नलिनी (Nalini Sriharan) ने पिछले साल अप्रैल में अपनी बेटी की शादी के लिए एक महीने की पैरोल ली थी. नलिनी पूर्व पीएम राजीव गांधी की हत्या में शामिल होने के कारण उम्रकैद की सज़ा काट रही है. दरअसल, 21 मई 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेंरबदूर में हुए एक धमाके में राजीव गांधी की मौत हुई थी. इस हत्याकांड की साजिश श्रीलंका में रची गई थी. श्रीलंका के जाफना में साजिश रचने वालों में लिट्टे प्रमुख प्रभाकरन और उसके चार साथी बेबी सुब्रह्मण्यम, मुथुराजा, मुरुगन और शिवरासन शामिल थे. नलिनी ने उस लड़की की तलाश की थी, जिसके बम बांधकर राजीव गांधी की हत्या की गई थी. नलिनी की ही जानने वाले धनू ने ही 21 मई को श्रीपेरंबदूर में एक रैली के दौरान राजीव गांधी को माला पहनाई, पैर छूए और बम धमाका हो गया. नलिनी ने ही धनू को अपने घर पर इसकी पूरी पैक्टिस कराई थी.

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password