भारत में कोरोना : 24 घंटों में 551 लोगों की मौत, करीब 50 हजार नए मामले दर्ज

नई दिल्ली (एजेंसी). भारत में कोरोना (Covid-19 In India) :  भारत में कोरोना वायरस (Covid-19 In India) महामारी के 48 हजार 268 नए मामले सामने आने के बाद देश में कुल संक्रमितों की संख्या 81 लाख 37 हजार 119 हो गई है. वहीं 74.32 लाख लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही देश में मरीजों के ठीक होने की दर 90.99 प्रतिशत हो गई है. देश में पिछले 24 घटों में 551 लोगों की मौत हुई है.

यह भी पढ़ें :

राहुल गांधी पर भड़के जेपी नड्डा, बोले- पुलवामा हमले पर पाक मंत्री के कबूलनामे के बाद मांगें माफी

 भारत में कोरोना वायरस (Covid-19 In India) पर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब कोरोना के कुल मामले 81 लाख 37 हजार 119 हो गए हैं. इनमें से एक लाख 21 हजार 641 लोगों की मौत हो गई हैं. वहीं, 74 लाख 32 हजार 829 लोग ठीक हो चुके हैं. अभी 5 लाख 82 हजार 649 लोगों का इलाज चल रहा है. कल 59 हजार 454 लोग ठीक हुए हैं.

यह भी पढ़ें :

रायपुर से ज्यादा इन जिलों में मिल रहे हैं कोरोना के केस

बता दें कि भारत में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को संक्रमितों की संख्या 40 लाख के पार चली गई थी. वहींकुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख के पार28 सितम्बर को 60 लाख और 11 अक्टूबर को 70 लाख के पार चले गए थे. 

यह भी पढ़ें :

आईपीएल 2020 : इस सीजन में केएल राहुल ने पार किया 600 रनों का आंकड़ा, विराट कोहली की रिकॉर्ड की बराबरी

झारखंड में लंबे समय बाद पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई, जिससे राज्य में मृतकों की संख्या 883 पर स्थिर रही. राज्य में कोरोना के 323 नये मामले सामने आये जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 101287 हो गई. झारखंड में 95208 मरीज अब तक ठीक हो चुके हैं. फिलहाल 5196 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 883 मरीजों की मौत हो चुकी है.

यह भी पढ़ें :

बढ़ सकती है एयर इंडिया के लिये बोली लगाने की समयसीमा, कर्ज मामले में लचीला रुख अपना सकती है सरकार

भारत में कोरोना वायरस (Covid-19 In India) की महामारी के बीच राहत भरी खबर देते हुए क्षेत्रीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान केंद्र (आरएमआरसी) ने घोषणा की कि सीरो सर्वेक्षण में पाया गया है कि भुवनेश्वर की 50 प्रतिशत आबादी में इस संक्रामक बीमारी के लड़ने के लिए एंटीबॉडी विकसित हो गई है. सीरो सर्वे में समुदाय के स्तर पर कोरोना के प्रसार का आकलन करने के लिए नमूनों का संग्रह कर जांच की जाती है. एंटीबॉडी वायरस के खिलाफ लड़ने की क्षमता के संकेतक के तौर पर काम करता है.

यह भी पढ़ें :

नेहा कक्कड़ ने शादी के चार दिन बाद सोशल मीडिया पर कर दिया ये बड़ा ऐलान, शादीशुदा जिंदगी से जुड़ा है मामला

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password