1 अगस्त से हो रहें है ये बदलाव, जो प्रभावित करेंगे आपके बजट को, पढ़ें क्या ?

नई दिल्ली (एजेंसी). देशभर में कल यानी एक अगस्त से बैंकिंग और इंडिया पोस्ट समेत अन्य सेक्टर्स से जुड़े कई नियमों में बदलाव होने जा रहा है. आपके रोजाना के बैंकिंग के कार्यों पर भी इसका असर देखने को मिलेगा. ईएमआई का भुगतान करने वाले और सैलरी-पेंशन पाने वाले लोगों को जहां फायदा मिलेगा, वहीं जो लोग ज्यादातर बार पैसे निकालने के लिए एटीएम का इस्तेमाल करते हैं उनके लिए अब ऐसा करना एक अगस्त से महंगा हो जाएगा. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा बैंकिंग के नियमों में बदलाव और अन्य बैंकों के अपडेट के चलते कल से ये नियम लागू हो रहे हैं. आइए जानते है क्या हैं ये बदलाव और इनका आप पर क्या असर पड़ेगा. 

यह भी पढ़ें :-

आज का राशिफल : वृषभ, कर्क, धनु राशि वालों को लाभ, मेष, सिंह, कुंभ राशि वालों का वैचारिक मतभेद, शारीरिक कष्ट  

कल यानी 1 अगस्त से नैशनल ऑटोमेटेड क्लीयरिंग हाउस (एनएसीएच) की व्यवस्था सप्ताह के सातों दिन उपलब्ध होगी. एनएसीएच बैंकों द्वारा इस्तेमाल में लाया जाने वाला एक बल्क पेमेंट सिस्टम है जिसके जरिये सैलरी और पेंशन ट्रांसफर की जाती हैं. वेतन के साथ ही इसके जरिये ईएमआई, बिल भुगतान और लोन भुगतान आदि भी किया जाता है. अब तक छुट्टी के दिन वेतन-पेंशन आदि का भुगतान नहीं होता था और ये सुविधा बैंकों के कामकाज वाले दिनों में ही उपलब्ध होती हैं. हालांकि आरबीआई के नए संशोधन के बाद अब आपके खाते में छु्ट्टी के दिन भी सैलरी और पेंशन आएगी. 

यह भी पढ़ें :-

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की औसत पॉजिटिविटी दर हुई 0.2 प्रतिशत, जाने आज के आंकड़े

यदि आप अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड से किसी अन्य बैंक के एटीएम से पैसा निकालते हैं तो इसके लिए आपको एक अगस्त से ज्यादा चार्ज देना होगा. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने एक अगस्त से सभी बैंकों को अपने इंटरचेंज चार्ज में बढ़ोत्तरी की अनुमति दी है. वर्तमान में बैंक हर फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन पर इंटरचेंज चार्ज के तौर पर 15 रुपये लेते हैं. अब एक अगस्त से दो रुपये की बढ़ोत्तरी के साथ ये चार्ज 17 रुपये हो जाएगा. वहीं अगर नॉन-फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन की बात करें तो वर्तमान में इस पर 5 रुपये का इंटरचेंज चार्ज देना पड़ता है जो कि अब एक अगस्त से 6 रुपये हो जाएगा. 

आरबीआई के संशोधित नियमों के अनुसार ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से हर महीने पांच फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते हैं. वहीं दूसरे बैंकों के एटीएम से ग्राहक मेट्रो सिटी में तीन और नॉन-मेट्रो सिटी में पांच फ्री एटीएम ट्रांजेक्शन कर सकते हैं. इसके बाद आपको हर ट्रांजेक्शन के लिए अतिरिक्त शुल्क चुकाना होगा. 

यह भी पढ़ें :-

छत्तीसगढ़ विधानसभा में उत्कृष्टता के लिए विधायक और पत्रकार हुए सम्मानित

1 अगस्त से यदि आप डाक विभाग के इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) की डोरस्टेप सर्विस का इस्तेमाल करते हैं तो इसके लिए आपको अतिरिक्त शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा. IPPB फिलहाल अपनी डोरस्टेप सर्विस का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों से कोईं शुल्क नहीं वसूलता है. हालांकि कल से आपको इसका इस्तेमाल करने पर प्रति सेवा 20 रुपये प्लस जीएसटी का भुगतान करना पड़ेगा.

नियमों के अनुसार हर महीने की एक तारीख को देश भर में एलपीजी सिलेंडर के दामों में बदलाव होता है. पिछले कुछ समय की बात करें तो अप्रैल में एलपीजी सिलेंडर के दाम में 10 रुपये की कटौती की गई थी. इसके बाद मई जून में घरेलू सिलेंडर की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया था. पिछले महीने यानी जुलाई में इनके दामों में 25 रुपये की बढ़ोत्तरी की गई थी. 

भारत के अग्रणी निजी बैंक ICICI की कई सेवाओं के इस्तेमाल पर आपको कल से ज्यादा चार्ज का भुगतान करना होगा. बचत खाताधारकों के लिए एटीएम इंटरचेंज फीस और चेकबुक का शुल्क कल से बढ़ जाएगा. इसके साथ ही बैंक अपने कस्टमर को चार फ़्री ट्रांजेक्शन की सुविधा देगा. जिसके बाद आपको प्रति ट्रांजेक्शन 150 रुपये के शुल्क का भुगतान करना होगा.

यह भी पढ़ें :-

एयरटेल (Airtel) ने महंगा किया अपना सस्ता प्लान, पढ़ें कौन सा प्रीपेड पैक  

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password