कोरोना की वजह से हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की बिक्री बढ़ी, एक महीने में 15 लाख लोगों ने खरीदी पॉलिसी

नई दिल्ली(एजेंसी): बीमा नियामक इरडा के चेयरमैन सुभाष सी खुंटिया ने दावा किया है कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के तौर पर एक महीने में कम से कम 15 लाख लोगों ने हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदी है. उन्होंने कहा कि इंश्योरेंस कंपनियों को इस समय बेहतर पॉलिसी के साथ लोगों के बचाव में आगे आना चाहिए. खुंटिया ने फिक्की के बीमा क्षेत्र पर आयोजित होने वाले वार्षिक सम्मेलन में कहा कि बीमा कंपनियों को ऐसे मुश्किल वक्त में पॉलिसीधारकों को बचाने के लिए आगे आना चाहिए. बीमा उद्योग को कुछ समय देखने के बाद इरडा ने उन्हें मानक कोरोना वायरस पॉलिसी ‘कोरोना कवच’ और ‘कोरोना रक्षक’ पेश करने को कहा.

खुंटिया ने कहा, ‘हमें मुश्किल समय में यह समझना चाहिए कि बीमा कंपनियों को पॉलिसीधारकों को बचाने के लिए आगे आना चाहिए. यह ग्राहकों की बदलती जरूरत है जिसका हमें सही से आकलन करना चाहिए और उसे पूरा करना चाहिए. मैं खुश हूं कि आप सभी (बीमा कंपनियों) ने मिलकर इन उत्पादों को पेश किया और हमने बीमा की राशि तय करने की छूट बीमा कंपनियों को दी’.उन्होंने कहा कि एक महीने से भी कम अवधि में इन दो बीमा पॉलिसियों के तहत 15 लाख से अधिक लोगों ने बीमा सुरक्षा ली है. यह ग्राहकों की मांग को दिखाता है.

बीमा नियामक इरडा ने पिछले दिनों सभी बीमा कंपनियों के जुलाई के आखिर तक कोरोना के इलाज के खर्च को कवर करने के लिए इंश्योरेंस पॉलिसी लांच करने को कहा था. अब लगभग सभी इंश्योरेंस कंपनियों ने कोरोना कवच के नाम से स्टैंडर्ड पॉलिसी लॉन्च की है. इसके तहत कोई भी 50 हजार रुपये से लेकर 5 पांच लाख रुपये तक के कवर का इंश्योरेंस पॉलिसी खरीद सकता है. इंश्योरेंस पॉलिसी एक साल की उम्र से लेकर 65 साल के शख्स के लिए खरीदी जा सकती है.

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password