रिलायंस (Reliance) की जिओ मार्ट (Jio Mart) करेगी किराना के आधे बाजार पर कब्जा : गोल्डमैन

2024 तक भारत में ई-कॉमर्स कारोबार 99 अरब डॉलर का -गोल्डमैन

नई दिल्ली (एजेंसी). रिलायंस (Reliance) जीओ मार्ट (Jio Mart) : गोल्डमैन ने एक बड़ा अनुमान लगाया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) अपने रिटेल बिजनेस के लिए फेसबुक के जरिए ऑनलाइन किराना बाजार के आधे हिस्से पर कब्जा कर लेगी. रिपोर्ट के मुताबिक भारत में सबसे बड़े मार्केट-कैप वाली कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज है, जिसने ई-कॉमर्स सेक्टर में ऑनलाइन किराना के लिए फेसबुक के जरिए व्हाट्सएप के साथ करार किया है. आरआईएल के ई-कॉमर्स कारोबार के लिए बनाए गए जियोमार्ट की योजना स्थानीय किराना दुकानों को कंज्यूमर के साथ जोड़ने के लिए फेसबुक के व्हाट्सएप का उपयोग करने की है. फेसबुक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.99 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है. बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज पेट्रोलियम, टेलीकॉम और रिटेल सेक्टर में अपना कारोबार करती है.

यह भी पढ़ें :

विद्युत जामवाल ने अपने नाम की ये बड़ी उपलब्धि, पुतिन के साथ टॉप 10 में बनाई जगह

जिओ मार्ट के साथ-साथ गोल्डमैन ने ‘ग्लोबल इंटरनेट-ई-कॉमर्स स्टीपेनिंग कर्व’ टाइटल से एक रिपोर्ट में कहा है कि साल 2024 तक भारत का ई-कॉमर्स कारोबार 99 अरब डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है. ऐसा इस कारोबार में 27 फीसदी की कंपाउंड एनुएल ग्रोथ रेट यानी सीएजीआर के आने से होगा. साल 2024 तक दुनिया के ई-कॉमर्स बाजार में भारत का बेहद बड़ा हिस्सा होगा और इस कारोबार के लिए भारत में असीम संभावनाएं दिख रही हैं.

यह भी पढ़ें :

चीन से तनातनी के बीच भारत ने किया मेड इन इंडिया ‘ध्रुवास्त्र’ मिसाइल का सफल परीक्षण

कोरोना वायरस संकटकाल के दौरान जहां सभी तरह के कारोबार को भारी नुकसान पहुंचा है वहीं ई-कॉमर्स कंपनियों के कारोबार में जोरदार बढ़त देखी जा रही है. रिपोर्ट में बताया गया है कि कंज्यूमर पैकेज्ड गुड्स जैसी कैटेगरी के मामलों में जो ग्रोथ सिर्फ तीन महीनों में देखी गई है वो करीब पिछले तीन साल की ग्रोथ के बराबर है. इस तरह ई-कॉमर्स कंपनियों के कारोबार में इस कोरोना संकटकाल के दौरान भी कमी नहीं आई है बल्कि इजाफा ही देखा गया है.

यह भी पढ़ें :

ऑनलाइन शॉपिंग में धोखाधड़ी पर कसा शिकंजा, नए ई-कॉमर्स कानून से ग्राहकों की सहूलियत बढ़ी

साल 2024 तक भारत में ई-कॉमर्स कारोबार के कई घटक जैसे रिटेल, फैशन, एपैरेल के जरिए ऑनलाइन कारोबार में भारी ग्रोथ देखी जाएगी. रिटेल की ऑनलाइन पहुंच के तेजी से ग्रोथ के जरिए इसके 10.7 फीसदी तक पहुंचने की संभावनाएं इस रिपोर्ट में जताई गई हैं. साल 2024 तक ई-कॉमर्स कारोबार के 99 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान तो है ही और ऐसा साल दर साल 27 फीसदी सीएजीआर के होने के चलते होगा.

यह भी पढ़ें :

EPFO ने जारी किए आंकड़े, मई में 3.18 लाख नए लोग नौकरियों से जुड़े-अप्रैल से बेहतर है संख्या

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password