भारतीय क्रिकेट टीम :  इंग्लैंड के साथ टेस्ट मैच, जाने कौन होगा प्लेयिंग इलेवन में

नई दिल्ली (एजेंसी). भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket) को इंग्लैंड के दौरे में एक टेस्ट मैच खेलना है, कप्तान रोहित शर्मा कोरोना संक्रमित होकर टीम से बाहर हो चुके हैं. इसलिए इस मैच के लिए सही टीम चुनना में मुश्किलें आ रही हैं. टीम की कमान अब जसप्रीत बुमराह के हाथों में है. रोहित के बाहर होने से टीम का संतुलन भी गड़बड़ा गया है. अब कोच द्रविड़ और कप्तान बुमराह के सामने सबसे बड़ी चुनौती ओपनिंग जोड़ी चुनने को लेकर होगी.  वहीं, स्पिन गेंदबाज में जडेजा या अश्विन में से किसी एक को चुनना भी मुश्किल होगा.

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket) के लिए मैच से पहले द्रविड़ ने संकेत दिए थे कि चेतेश्वर पुजारा से पारी की शुरुआत कराई जी सकती है। वहीं, मयंक अग्रवाल को भी इंग्लैंड बुला लिया गया है और वो भी टीम के साथ हैं। ऐसे में देखने वाली बात होगी कि भारत किन 11 खिलाड़ियों के साथ मैदान में उतरता है। 

यह भी पढ़ें :

जय श्री गणेश, आज का राशिफल : मेष, सिंह, कुंभ राशि वालों को लाभ, कर्क, कन्या, धनु राशि वाले तनाव से बचें

इंग्लैंड के मुश्किल हालातों में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए सलामी जोड़ी की अहमियत बढ़ जाती है. इस सीरीज के शुरुआती चार मैचों में भारत के आगे होने की वजह सलामी जोड़ी ही थी। रोहित और राहुल ने मिलकर हर मैच में शानदार शुरुआत की थी और दोनों भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। इस सीरीज में दोनों ही बल्लेबाज नहीं हैं। ऐसे में गिल को मौका मिलना तय है, लेकिन मयंक अग्रवाल को मौका देने की जगह कोच द्रविड़ पुजारा से पारी की शुरुआत करा सकते हैं। पुजारा पहले भी सलामी बल्लेबाज को रूप में खेल चुके हैं और सफल भी रहे हैं। 

पुजारा के पारी की शुरुआत करने पर हनुमा विहारी तीसरे नंबर पर खेल सकते हैं। चौथे नंबर पर विराट और पांचवें पर पंत का खेलना तय है। श्रेयस अय्यर छठे और जडेजा या अश्विन सातवें नंबर पर खेल सकते हैं। शार्दुल के अलावा तीन प्रमुख तेज गेंदबाजों के साथ टीम इंडिया मैदान में उतरेगी। 

रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा के बीच स्पिन ऑलराउंडर के रूप में जगह बनाने की होड़ रहेगी। अगर कोच द्रविड़ और कप्तान बुमराह गेंदबाजी पर ज्यादा जोर देते हैं तो अश्विन को मैका मिल सकता है। अश्विन विश्व स्तरीय गेंदबाज हैं और वो अपनी विविधताओं के दम पर किसी भी पिच में प्रभावी साबित हो सकते हैं। वहीं, जडेजा ने बल्ले के साथ बेहतर प्रदर्शन किया है और बल्लेबाजी मजबूत करने के लिए उन्हें मौका दिया जा सकता है। हालांकि, एजबेस्टन की पिच में किसी भी स्पिन गेंदबाज को मदद नहीं मिलेगी। ऐसे में जडेजा को मौका मिलने की संभावना ज्यादा है। 

इस मैच में भारत तेज गेंदबाजी के चार विकल्पों के साथ उतरना चाहेगा। शार्दुल ठाकुर तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर के रूप में खेलेंगे। वहीं, कप्तान जसप्रीत बुमराह के अलावा मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज बाकी दो तेज गेंदबाज होंगे। कोच और कप्तान के पास प्रसिद्ध कृष्णा और उमेश यादव का विकल्प भी है, लेकिन ये इन दोनों खिलाड़ियों को मौका मिलने की संभावना कम है। 

इंग्लैंड की तरफ से पहले ही 11 खिलाड़ियों की टीम का एलान किया जा चुका है। तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन की टीम में वापसी हुई है। इसके अलावा कोई खास बदलाव नहीं किया गया है। कोरोना की वजह से विकेटकीपर बेन फोकस टीम से बाहर हो गए हैं और उनकी सैम बिलिंग्स को टीम में शामिल किया गया है। 

इंग्लैंड की टीम
एलेक्स लीस, जैक क्रॉली, ओली पोप, जो रूट, जॉनी बेयरस्टो, बेन स्टोक्स (कप्तान), सैम बिलिंग्स (विकेटकीपर), मैथ्यू पॉट्स, स्टुअर्ट ब्रॉड, जैक लीच, जेम्स एंडरसन।

ये हो सकती है भारत की संभावित टीम
शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (उपकप्तान, विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह (कप्तान),  मोहम्मद सिराज।

यह भी पढ़ें :

हनुमान जी को पसंद हैं पान का बीड़ा, जाने कैसे अर्पित करें, कैसे बनाये

<

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password